मंगलवार, 15 नवंबर 2011

गूगल का नया अंदाज अब किसी भी वेबसाईट पढने के साथ साथ सुने भी

 ये गूगल क्रोम की ऐसी सुविधा है जिसमे आप किसी भी वर्ड को सुन सकते हो यानि अगर आप मेरी लिखी पोस्ट को सुनना चाहते हो तो ये सुविधा आपको सिर्फ गूगल क्रोम में मिलती है वो भी एक extension इंस्टाल करने के बाद जिसका नाम है SpeakIt लेकिन इसे डालने के लिए आपके पास गूगल क्रोम का होना जरुरी है अगर आपके पास गूगल क्रोम नहीं है तो यहाँ क्लीक करके आप गूगल क्रोम डाउनलोड कर ले इसके बाद यहाँ क्लीक करके वो टूल डाउनलोड कर ले जिससे आप किसी भी टेक्स को सुन सकते हो इसे डालने के बाद गूगल क्रोम में ऊपर की और एक छोटा सा स्पीकर बना हुवा आजायेगा इसके बाद किसी टेक्स्ट को चुनकर राईट क्लिक करके SpeakIt विकल्प पर क्लिक कर उसे सुन पायेंगे.

read more

शनिवार, 12 नवंबर 2011

गेम्स सिस्टम रिक्वायरमेंट

एक ऐसी साईट है जहाँ पर आप ये पता लगा सकते है की कोनसा गेम आपके कम्प्यूटर में चलेगा और कोनसा नहीं चलेगा  इस साईट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करे

read more

Need for speed most wanted डाउनलोड करे



इस हफ्ते का गेम है Need for speed most wanted ये नया गेम है need for speed के नाम से आप पहले भी गेम खेल चुके होंगे पर Need for speed most wanted गेम की बात ही कुछ और हँ ये आपको खेलने के बाद ही पता चलेगा इस गेम का साइज २ जीबी है तो देर किस बात की गेम डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करे 
read more

Need for Speed के सारे वर्जन डाउनलोड करे

बहुत दिनों के बाद अपने ब्लॉग पर कोई गेम दे रहा हु और जो गेम दे रहा हु वो आप सब का पसिंदा गेम है आप सब ने Need for Speed नाम का गेम खेला तो होगा ही और शायद रेस जीते भी होंगे लेकिन आज मैं आपके लिए Need for Speed के वो सारे वर्जन लेकर आया हु जिसे खेल कर आप आसानी से रेस नहीं जीत सकते मेरी इस फाइल में के शुरू से लेकर अब तक के सारे वर्जन है यह गेम डाउनलोड करने के लिए आपको इस सोफ्टवेयर की जरूरत होगी


read more

गुरुवार, 10 नवंबर 2011

फोटो को विडियो डीवीडी में बदलने का बेहतरीन सोफ्टवेयर



आज आपके लिए ऐसा सोफ्टवेयर लाया हु जो आपकी फोटो को अलग अलग इफेक्ट देकर सीडी या डीवीडी में बर्न कर देगा जिसे आप आसानी से अपने टीवी में देख सकते हो आजकल वेसे भी शादियों का सीजन चल रहा है तो ये सोफ्टवेयर आप लोगो के बहुत काम आ सकता है इस सोफ्टवेयर से आप अपने कंप्यूटर में सेव करी हुई बहुत सी फोटो की एक वीडियो डीवीडी बना सकते हो और उस वीडियो डीवीडी में एक से बड़कर एक इफेक्ट देकर अपनी पसंद के सोंग डाल कर अपने डीवीडी प्लयेर में प्ले कर सकते हो इस बेहतरीन सोफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करे ये आपके किसी न किसी रूप में काम आ ही जायेगा 
read more

बुधवार, 9 नवंबर 2011

यूट्यूब से विडियो डाउनलोड करने का आसान तरीका


वेसे तो बहुत से सोफ्टवेयर और टूल है जिन्हें डालने के बाद आप यूटूब से विडियो डाउनलोड कर सकते हो लेकिन अगर आप गूगल क्रोम का इस्तेमाल करते हो तो आप अपने गूगल क्रोम से ही किसी भी यूटूब विडियो को डाउनलोड कर सकते होआप यहाँ से वो बेहतरीन एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते हो और युटुब से वीडियो केसे डाउनलोड होंगे यहाँ पुरे चित्र के साथ बताया गया है यहाँ आपको और भी बहुत सी एप्लीकेशन मिलेगी जो आपके गूगल क्रोम के लिए बहुत काम आयेगी

जब आप इस एप्लीकेशन को डाल लोगे तो आपके यूटूब के विडियो पर डाउनलोड का लिंक आ जायेगा जेसा आप ऊपर चित्र में देख देख रहे हो और आप यहाँ क्लीक कर के यूट्यूब से पूरी की पूरी मूवी भी डाउनलोड कर सकते हो अगर आप इस एलीकेशन को नहीं डालना चाहते तो मैं निचे एक कोड दे रहा हु जिसे आप किसी भी यूट्यूब विडियो को खोलकर ऊपर एड्रेस बार के यूआरएल में निचे दिया हुवा कोड पेस्ट कर दे जेसे ही आप इस कोड को पेस्ट करके एंटर दबाओगे आपका यूट्यूब से विडियो डाउनलोड होना शुरू हो जायेगा 

javascript:isIE=/*@cc_on!@*/false;isIE ? swfHTML=document.getElementById('movie_player').getElementsByTagName('param')[1].value:swfHTML=document.getElementById("movie_player").getAttribute("flashvars");w=swfHTML.split("&");for(i=0;i<=w.length-1;i++)if(w[i].split("=")[0] == "fmt_url_map"){links=unescape(w[i].split("=")[1]);break;}abc = links.split(",");for(i=0;i<=abc.length-1;i++){fmt=abc[i].split("|")[0];if(fmt==5){url = abc[i].split("|")[1] + '&title=' + (((document.title.replace('#',' ')).replace('@',' ')).replace('*',' ')).replace('|',' ');window.location.href = url;}}
read more

यूट्यूब की एक बेहतरीन सेवा का इस्तेमाल करे

                       
अगर आप यूट्यूब पर कोई विडियो सर्च करते है तो आपका मन करता होगा कि आपके पसंद के विडियो एक एक कर चलते रहे आप ऐसा कर सकते है यूट्यूब पर आप विडियो कि प्लेलिस्ट तैयार कर सकते है ये यूट्यूब कि खाश सुविधा है जो सामान्य यूट्यूब के होम पेज पर दिखाई नहीं देती
अगर आप वीडियो कि प्लेलिस्ट बनाना चाहते हो तो आपको ऊपर यूआरएल मेंyoutube.com/disco लिखना होगा ये लिखने के बाद जो पेज खुलेगा उसमे अपने पसिंदा कलाकार का नाम डाले जैसे आपने mohammad rafi याanup jalota नाम लिखा लिखा है नाम डालने के बाद इसमें 50 गानों कि प्लेलिस्ट मोजूद होगी आपको कुछ नहीं करना ये गाने एक एक कर अपने आप ही चलते रहेंगे बस आप गाने सुनने का आनन्द लीजिये
read more

यूटयूब के एक राज को जानिए


यदि आप इंटरनेट पर विडियोज और मूवीज देखने के शैकिन हैं तो निश्चय ही आप यूटयूब साइट को खोलते होंगे। आप शायद यह नही जानते होंगे कि आप यूटयूब पर विडियोज देखते समय आप दुनिया का सबसे प्रचलित स्नेक गेम को खेल सकते है। यूटयूब साइट पर कोई विडियो खोलने पर बफरिंग होती है बफरिंग होने पर आपको इंतजार करना पड़ता है लेकिन मै आपको ऐसा तरीका बतता हू जिसे करने के बाद आप बफरिंग के दोरान गेम खेलने का मजा भी ले सकते है

सबसे पहले आप यू-ट्‌यूब पर जाकर किसी भी विडियो को देखने के लिए सिलेक्ट करें। विडियो के सिलेक्ट होते ही बफरिंग होना शुरू हो जाती है।
तब आप अपने माउस का लेफ्ट बटन + ऐरो की का लेफ्ट बटन + ऐरो की का उपर का बटन दबाएं।
इन बटनों को दबाते ही स्ट्‌ीमिंग का सर्किल मूव करने लगता है फिर आप इसे ऐरो की से कंटोल कर सकते है और मजे से स्नेक गेम को खेल सकते हैं और अगर आप स्क्रीन को फुल करके ये गेम खेलोगे तो और मजा आयेगा लेकिन जरा ध्यान से खेलना इस गेम को क्युकी इसे खेलना इतना आसान नहीं है ।
read more

जीमेल की इन सुविधाओं को जरूर आजमाएं



वेब आधारित सेवाओ में सर्च के अलावा ईमेल लगभग हर यूजर की जरूरत बन चुकी है। 1990 के दशक के दूसरे चरण मे याहू यूएसएनेट और हाटमेल जैसी ईमेल सेवाएं तेजी से लोकप्रिय हुई। अलबत्ता बाद मे गूगल ने 2004 मे अपनी ईमेल सेवा जीमेल शुरू की तो अपने नए फीचर्स के चलते वह करोडों यूजर्स को अपनी ओर खींचने में सफल रही। इस ई-मेल सेवा में ऐसी कई सुविधाएं है जो दूसरो मे नही। अगर आप जीमेल का पूरा इस्तेमाल करना चाहते है तो इन सुविधाओं को जरूर आजमाएं।

बैकअप करें
अगर आपको अपने जीमेल अकाउंट में आने वाली मेल के गलती से डिलीट हो जाने की आशंका है तो आप हर ईमेल की प्रति किसी अन्य ईमेल खाते मे स्थानांतरित कर सकते है। आपके ईमेल खाते मे जो भी मेल आएगी वह स्वतः दूसरे ईमेल खाते मे पहुच जाएगी। इसके लिए जीमेल की सेटिंग्स खोलिए, अबफारवर्डिग एंड पीओपी-आईएमएपी पर क्लिक कीजिए। अब फारवर्डिग सेक्शन में फारवर्ड ए कॉपी ऑफ इनकमिंग मेल के सामने अपना वैकल्पिक ईमेल खाता लिख दें। अगर आपने कई जीमेल खोले है तो आप उन सबकी ईमेल इस तरीके से किसी एक ईमेल एकाउंट में मंगा सकते है।

फिल्टर
अगर आप किसी खास व्यक्ति का ईमेल देखना ही नही चाहते या किसी विशेष स्रोत से आई ईमेल को एक अलग लेबर देना चाहते है तो फिल्टर का प्रयोग कीजिए। इस सुविधा के जरिए आप किसी विशेष व्यक्ति की सभी ईमेल पर स्वतः स्टार निशान अंकित करने को निर्देश भी दे सकते है और उन्हे फारवर्ड भी कर सकते है। यानी बिना ईमेल पढ़े बहुत कुछ करने की आजादी। तरीका सीधा सा है जीमेल पेज के उपर की ओर बने क्रिएट ए फिल्टर लिंक पर क्लिक कीजिए। इसमें सबंधित ईमेल को अलग से पहचानने के लिए जरूरी सूचनाएं दीजिए और क्रिएट फिल्टर बटन दबा दीजिए। आपको ढेर सारे झंझटो से बचाने वाली सुविधा तैयार है।

रेडीमेड रिप्लाई 
अगर आपके पास बहुत ज्यादा ईमेल आते है और सबके जवाब देने के लिए समय नही है तो कोई बात नही, जीमेल मे पहले से ही कुछ रेडीमेड जवाब तैयार करके रख लीजिए और उन्हे भेजकर समय बचाइए। इसके लिए आपको मेलबाक्स के सबसे उपर दिए गए गूगल के लिंक्स मे मोर पर क्लिक करते हुए गूगल लैब्स की यूटिलिटीज तक पहुंचना होगा और वहां दाई ओर दिए लिंक्स में से जीमेल लैब्सको क्लिक करना होगा अब दिखाई जाने वाली सूची में कैन्ड रेस्पोन्सेज को इनेबल कर लीजए। अब अपने रेडीमेड रेस्पोंस तैयार किजिए जैसे धन्यवाद, मै जल्दी आपको उत्तर भेजता हूं या फिर कैसे है आदि। इसके लिए कम्पोज मेल पर क्लिक कीजिए और खुलने वाले कम्पोज बॉक्स मे सब्जेक्ट लाइन के ठीक नीचे कैन्ड रेस्पोन्स के जरिए आप अपने रेडिमेड जवाब तैयार कर सकते है। इन्हे भेजने के लिए भी इसी लिंक का प्रयोग किजिए।

आर्काइव
अपने जीमेल इन बॉक्स को साफसुथरा रखने के लिए आर्काइव सुविधा का प्रयोग करें। पुराने पड़ चुके ईमेल संदेशों को सिलेक्ट करें और आर्काइव बटन दबाएं। चुने हुए सभी संदेश इनबॉक्स से गायब हो जाएंगे। मगर वे गए कहां वे जीमेल में ही मोजूद है औ आप चाहे तो बाई तरफ दिए गए विकल्पो मे ऑल मेल नामक लिंक दबाकर उन्हे देख सकते है। अगर यह लिंक दिखाई न दे तो थोडी सी खोजबीन करें यह ६ मोर या ऐसे ही अन्य किसी लिंक के पिछे छिपा होगा। उपयोगी चीजो को खोजने के लिए मेहनत करनी ही पड ती है
read more

चुटकियों में हल करे सुडोकू की पहेली





अगर आप से सुडोकू की पहेली नहीं हल हो रही तो सर्च इंजन गूगल का नया वर्जन चुटकियों में इसे आपके लिए हल कर देगा। इससे भी कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह कितना कठिन है। यही नहीं अब गूगल की बदौलत आप अपने मोबाइल फोन से भी सुडोकू सॉल्व कर सकते हैं। बस इसके लिए आपको नए अपडेटेड मोबाइल फोन एप्लिकेशन गूगल गॉगल्स की जरूरत होगी। इसके लिए आपको सुडोकू की फोटो फोन कैमरे से फोटो खींचकर गूगल के पास भेजनी होगी। इसके बाद गूगल का सर्वर इस पहेली का हल फोटो सहित आपके फोन पर भेज देगा। अगर आप किसी जगह पर गए है और आपको उस जगह के बारे में जानकारी नहीं है तो बस आपको उस जगह की फोटो खींचकर गूगल के पास भेजनी होगी। इसके बाद गूगल का सर्वर आपके फोन उस जगह की पूरी जानकारी फोटो के साथ भेज देगा। और इससे आप और भी बहुत काम कर सकते निचे विडियो में आप इसके बारे में पूरी जानकारी ले सकते है



read more

घर बैठे करें अंतरिक्ष की सैर



आसमान का अध्ययन इंसान का संभवतः सबसे पुराना शगल रहा है। प्रागैतिहासिक काल से मनुष्य आकाश मे असख्या रहस्यों का पता लगाने मे जुटा है। आखिर आकाश कितनी उचाई पर है, जो नीली छतरी दिखाई देती है, उसके उपर क्या है, हम इस धरती पर क्यो है और क्या हमारे जैसे और भी लोग ब्रह्यांड मे कहीं और है, ये चंद ऐसे सवाल है जिनका जवाब तलाशने की हर संभव कोशिश हो रही है। खगोल विज्ञान अध्ययन का एक विषय है पर पिछले कुछ दिनों खगोलीय यानी आकाशीय घटनाओं पर नजर रखना एक शौक को और बढ़ाया है। कहने का मतलब यह है कि अब आकाशीय गतिविधियो को देखने के तीन तरीके आपके पास है। एक टेलीस्कोप वाला मेथड है, दूसरा इंटरनेट से डाटा डाउनलोड करने वाला और तीसरा सोफ्टवेयर  के जरीए वर्चुअल विजुअलाइजेशन का तरीका है।


अंतरिक्ष में देखने का सबसे शुरूआती हार्डवेयर दूरबीन है। यह सस्ता होता है। इसमें आपको बहुत हाई मैगनिफिकेशन की भी जरूरत नही है। ये हल्के होते है और इनसे अंतरिक्ष में देखते हुए आप थकते भी नही है। हालांकि आप चाहें तो टइपॉड ले सकते है जिस पर इसे रख कर ज्यादा आसानी से आप अंतरिक्ष की सैर कर सकते है। (www.skyandtelescope.com) पर जाकर आपको पर्याप्त सुक्षाव मिल जाएंगे कि आपको किस किस्म के दूरबीन और उनके लिए उनके लिए किस तरह के टइपॉड खरीदना चाहिए ताकि आप बेहतर स्टारगेजिंग कर सकें। आज ढेर सारे टेलीस्कोप बाजार मे उपलब्ध है। आपको टेलीस्कोप उसके अपर्चर साइज के आधार पर चुनना चाहिए कि आपका चयन सिर्फ मैगनिफिकेशन पर आधारित न हो। अगर आपका टेलीस्कोप ज्यादा अपर्चर वाला है और उसका मैगनिफिकेशन भी ज्यादा हो तो हो सकता है कि आपको आकाश में धुंधला सा दिखाई दे। उदाहरण के लिए 50 एक्स का टेलीस्कोप आपको जूपिटर के चंद्रमा और शनि के रिंग्स देखने में मदद कर सकता है, लेकिन अगर आप मंगल की सतह देखना चाहते है तो 150 एक्स या इससे भी बेहतर टेलीस्कोप चाहिए होगा। इस बारे में ज्यादा जानकारी(www.scsastro.co.uk/telescope_selector) पर मिल सकती है।


जहां तक कंप्यूटराइज्ड स्टारगेजिंग का मामला है तो इसके लिए आपको एक नार्मल ऑप्टिकल टेलीस्कोप को कंप्यूटर के साथ जोड़ना होगा। इन्हे स्टार लोकेटिंग टेलीस्कोप बोलते है। ये आपके लिए आकाश में आपकी पसंद के ऑब्जेक्ट को तलाश कर देते है। लेकिन मुश्किल यह है कि आप इन्हे जितनी बार इस्तेमाल करेंगे उतनी बार सेट करना होता है यह काफी थका देने वाला काम होता है। सबसे पहले टेलीस्कोप को टइपॉड के लेवल मे सेट करना होता है और इनकी पोजिशन ऐसी रखनी होती है, जिसके एक साथ ज्यादा चमकदार तारों पर फोकस बने। इसमें एक हैंड कंटेलर होता है। सेलेस्टर नेक्स्टर रेंज में बिल्ट इन स्टार कैटलॉग होता है, हैंड कंटेलर से स्टार कैटलॉग के तारो को एक्सेस किया जा सकता है। उसके इस्तेमाल से आप सबसे पहले कोई स्टार या दूसरा कोई ऑब्जेक्ट सिलेक्ट करते है फिर आपका टेलीस्कोप तेजी से आपके द्वारा सिलेक्ट किए गए ऑब्जेक्ट की ओर घुमता है और जैसे जैसे उसके पास पहुंचता है इसकी स्पीड स्लो हो जाती है। इसमें एक पैकेज होता है टूर ऑफ द टॉप 10 ऑब्जेक्टस इन द स्काई का ऑब्जेक्टस इन द स्काई का ऑप्शन भी है, आप समय और जगह के हिसाब से इसे कस्टमाइज कर सकते हैं।


एक डिवाइस है सेलेस्टन का स्काईस्काउट, यह अपेक्षाकृत नया डिवाइस है। हाथ मे रख कर इस्तेमाल करने वाले इस यंत्र में छ हजार ऑब्जेक्टस की बिल्ट इन रिकार्डिग है। आप जिस पोजिशन मे खडे होगे वहां से टॉप टेन ऑब्जेक्ट देखने की सुविधा भी यह आपको देगा। इसे यूएसबी पोर्ट के जरिए आप अपने कंप्यूटर से जोड़ सकते है। इसकी खास बात यह है कि इसमें आपको सेटिंग के काम मे नही उलझना होता है यह काम ये खुद ही कर लेता है। दूसरे इसमे एक जीपीएस रिसीवर होता है जो आपकी लोकेशन और समय बताता है। इसमे थ्री एक्सिस और ग्रेविटेशन इफेक्टस का अध्ययन करता है। इससे आप आकाश में जो कुछ भी देखते है उसके बारे में बेहतर डाटा हासिल हो पाता है। इसमे यह सुविधा भी है कि आप आकाश मे जो कुछ देखते है उसकी तस्वीर भी ले सकते है।

अगर आप कंप्यूटर पर बैठ कर एस्टेनॉमी का आनंद लेना चाहते हैं तो आपको स्लोअन डिजिटल स्काई सर्वे से शुरूआत करनी चाहिए। (www.sdss.org)पर जाकर इसकी शुरूआत कर सकते हैं। यह एक बहुत महत्वाकांक्षी परियोजना है जिससे पूरे ब्रह्यांड की त्रिआयामी मैप बनाने के लिए शुरू किया गया था। हालांकि इसे नेविगेट करने में थोडी परेशानी होती है।
दूसरी अच्छी वेबसाइड सेड मेसियर कैटलॉग की है जिसे आप(messier.obspm.fr) से एक्सेस कर सकते है। यह एक किस्म के ऑब्जेक्ट की बहुत साफ तस्वीर दिखाता है और साथ ही उसके बारे मे सूचनाएं भी देता है। हाल के दिनो गूगल अर्थ का न्यू स्काई फीचर लांच हुआ है। इसमे एक क्लिक से आप व्यूप्वाइंट से धरती से आकाश तक चेंज कर सकते है। आप सारे आकाशीय ग्रहों में नेविगेट कर सकते हैं। और जूम करके उन्हे देख सकते हैं। इसे आप(earth.google.com) पर देख सकते है ।

एक वेबसाइट है (www.starrynightstore.com) यहां पर एक करोड़ 60 लाख तारों का बैंक है आप इस साइट पर जाकर इतने तारों को देख सकते है। अगर आप स्टारगेजिंग के शौकिन हैं तो इन साइटस से आपको बहुत मदद मिलेगी।
read more

गूगल है हैकर्स का सबसे अच्छा मित्र लाइव सिक्योरिटी कैमरा, मनपसंद गाने, किताबे, वीडियोज सिर्फ कुछ सेकंड्‌स में


वेब सर्वर की डायरेक्टरी सूची
वेब सर्वर की डायरेक्टरी सूची वह वेबपेज होता है जो वेब सर्वर पर मौजूद डायरेक्टरी और फाइल्स को दिखाता है। यह इसलिए बनाई जाती है ताकि वेबसर्वर एडमिनीस्ट्रेटर अपना काम आसानी से कर सकें। पर अगर ये सूची हैकर्स के हाथ लग जायें तो यह वेब सर्वर एडमिनीस्ट्रेटर के लिए किसी बुरे स्वप्न से कम नही होगा वह इसलिए क्योकि यह सूचि वह फाइल भी दिखाती है जो पब्लिक नही होती अर्थात जिन्हे वेब सर्वरएडमिनीस्ट्रेटर दिखाना नही चाहते। हैकर्स डायरेक्टरी सूची को पाने के लिए (intitle:index.of) सर्च का यूज करते है।(intitle:index.of) को गूगल सर्च मे डालने पर गूगल वह सारे वेबपेज रिर्टन करता है जिनके टाइटल बार मे index of लिखा हुआ हो। टाइटल बार मे index of अधिकतर डायरेक्टरी सूची को दर्शाने के लिए लिखा जाता है।

यही नही (intitle:index.of "parentdirectory") को सर्च करने पर गूगल वह सारे डायरेक्टरी सूचियां रिटर्न करेगा जिनमे paren tdirectory शब्द हो। याद रखें इधर parent directory की जगह आप कोई ओर शब्द भी इस्तेमाल कर सकते है जैसे कि name size एक बार डायरेक्टरी सूची आने पर हैकर्स कई महत्वपूर्ण फाइल्स डाउनलोड कर सकते है। इनके अलावा वह अति महत्वपूर्ण admin डायरेक्टरी जो डायरेक्टरी सूची के अंतर्गत होती है, को एक्सेस करने के लिए हैकर्स (intitle:index.of.admin) या फिर (intitle:index.of inurl:admin) का इस्तेमाल करते है।
ऐसा करने से गूगल वह डायरेक्टरी सूचियां रिटर्न करेगा जिनके वेबपेज के यूआरएल मे admin आता हो।

किसी खास साईट की डायरेक्टरी सूची देखने के लिए हैकर्स intitle आपरेटर के साथ site आपरेटर का उपयोग भी कर सकते है। उदाहरण के लिए(intitle:index.of site:infinityexists.com) सर्च करने से आपको सिर्फ(infinityexists.com) की ही डायरेक्टरी सूची मिलेगी। याद रखें कि आपको हर वेब सर्वर की डायरेक्टरी सूची मिले ऐसा अनिवार्य नही है, क्योकि यह जरूरी नही कि हर वेब सर्वर की डायरेक्टरी सूची ऐनेबल्ड हो।

वेबसर्वर का वर्जन नंबर ज्ञात करना 
किसी वेवसाइट के वेबसर्वर का वर्जन नंबर मिल जाना हैकर्स के लिए खुशी की बात होती है क्योकि फिर वह इस वर्जन नंबर के लिए बनाए गए एक्सप्लाइट्‌स को वेबसर्वर के खिलाफ रन करवा सकते है। एक्सप्लाइट्‌स सी या पर्ल लैंग्वेज मे बने वो प्रोग्राम्स होते है। जिन्हे कम्पाइल कराते ही हैकर्स को सर्वर में सेंध मारने का रास्ता मिल जाता है। हैकर्स के पास वेबसर्वर का कंटेल आने के बाद वह वेबसर्वर को काफी नुकसान पहुचा सकते है। यह एक्सप्लाइट्‌स और इनको इस्तेमाल करने का तरीका नेट पर फ्री मे उपलब्ध है तथा हर वर्जन के एक्सप्लाइट्‌स अलग होते है। नेट पर बहुत सी ऐसी कम्युनिटीज है जो एक्सप्लाइट्‌स बनाती है इनमे से प्रमुख है (www.milw0rm.com) और (www.metasploit.com) और भी ऐसी कई कम्युनिटीज के नाम related आपरेटर से ज्ञात कर सकते है।

तो अब बात आती है वेबसर्वर का वर्जन नंबर ज्ञात करने की इसक लिए वापस हम वेबसर्वर की डायरेक्टरी सूची की तरफ चलते है। किसी वेबसर्वर की डायरेक्टरी सूची के अंत मे वेबसर्वर का वर्जन नंबर लिखा होता है और यहां तक की कई बार वेबसर्वर के आपरेटिंग सिस्टम का नाम भी लिखा होता है। इसके अलावा किसी खास वेबसर्वर का वर्जन नंबर ज्ञात करने के लिए intitle आपरेटर और site आपरेटर का साथ मे प्रसोग किया जाता है। उदाहरण के लिए(www.media.foxhisper.co.uk) के वेबसर्वर का वर्जन ज्ञात करने के लिए(intitle:index.of"server at" site:media.foxhisper.co.uk)सर्च करे इसमे आपको वह वेबपेज मिलेंगे जिनमे server at लिखा हुआ होगा तथा इसके साथ वेबसर्वर का वर्जन नंबर भी लिखा होगा। आजकल कई वेबार्वर मे सूरक्षा के चलते या तो डायरेक्टरी सूची हटा दी जाती है या अगर होती भी है तो उसमे से वेबार्वर का वर्जन नंबर हटा दिया जाता है। ऐसे मे हैकर्स पोर्ट स्कैनर्स का प्रयोग करते है पोर्ट स्कैनर्स वह सोफ्टवेयर होते है जो टारगेट वेबसर्वर के हर पोर्ट पर मैसज भेजकर रेस्पॉन्स से वेबसर्वर का वर्जन नंबर तथा आपरेटिंग सिस्टम की महत्वपूर्ण जानकारी हैकर्स तक भेजते है तथा यह भी बताते है कि टारगेट सिस्टम मे कौन से पोर्ट खुले है। NMAP और NESSUS अब तक के सबसे उन्नत पोर्ट स्कैनर्स मे से है।

पासवर्ड की जानकारी लेना
वेबसर्वर की डायरेक्टरी सूची कई बार गलती से ऐसी फाइल्स दिखा देती है जिनके कन्टेन्ट मे महत्वपूर्ण पासवर्ड की जानकारी होती है। ऐसी ही एक फाइल है WS_FTP.ini फाइल। दरअसर FTP सर्वर के एनक्रीप्टेड पासवर्ड को WS_FTP क्लाइंट का सर्वाधिक इस्तेमाल किया जाता है और यह क्लाइंट एनक्रीप्टेड पासवर्ड को WS_FTP.ini फाइल मे स्टोर करके रखता है। इस फाइल को देखने के लिए हैकर्स (intitle:index.of ws_ftp.log) या(intitle:index.of "parent directory" "ws_ftp.ini") कोड का प्रयोग करते है। एक बार WS_TP.log या WS_TP.ini फाइल आने के बाद हैकर्स किसी फाइल डीक्रिप्टर से फाइल को डीक्रिप्ट करके पढ़ लेते है।

गूगल द्वारा लाइव सिक्योरिटी कैमरा लोकेट करना
यह एक टि्‌क है जिससे आप इंटरनेट से जूडे दुनिया के किसी भी कोने के लाइव सिक्योरिटी कैमरा द्वारा खींची गई तस्वीरे देख सकते है। हालांकि यह टि्‌क जगह विशेष न होकर कैमरा निर्माता विशेष है। इधर भी आपको करना सिर्फ यह होगा कि नीचे दिए गए कोड को गूगल पर सर्च करें।
ऐक्सिस कैमरा के लिए
(inurl:view/index.shtml)
कैनन वेबकैम के लिए
(intitle:liveapplet inurl:LvAppl)
मोबोटिक्स वेबकैम के लिए
(control/userimage.html)
इवोकैम के लिए
(intitle:"Evocam")
(inurl:"webcam.html")
पेनोसोनिक नेटवर्क कैमरा के लिए
(intitle:"ViewerFrame?Mode=")
यूएसबी के लिए
(intitle:"active webcam page")

फिर भी अगर आप किसी खास देश के कैमरा देखना चाहते है तो साथ मे site आपरेटर का भी उपयोग कर सकते है। उदाहरण के लिए(inurl:view/index.shtml site:uk) सर्च करने से आप युनाइटेड किंगडम के इंटरनेट से जुडे ऐक्सिस के लाइव सिक्योरिटी कैमरे द्वारा खींची गई तस्वीरें देख सकते है। इधर मजे की बात यह है कि कई कैमरा स्पष्ट देखने के लिए जूम सुविधा भी देते है।

मनपसंद गाने, किताबे, वीडियोज सिर्फ कुछ सेकंड्‌स में
गूगल के स्पेशल सर्च आपरेटर का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप कई सर्च आपरेटर एक साथ इस्तेमाल करके और भी अच्छे परिणाम पा सकते है। अब आप अपने मनपसन्द गाने, किताबे, विडियोज फ्री मे डाउनलोड कर सकते है वह भी बिना किसी झंझट के सिर्फ एक क्लिक मे। आपको करना सिर्फ यह होगा कि नाचे दी गई कोड को गूगल मे सर्च करें।

किताबो के लिए
(-inurl:(html|html|php)intitle:"index of"+"last modified"+parent directory"+description+size+(pdf|doc|chm) "hacking")
इससे आपको वह डायरेक्टरी सूचियां मिलेंगी जिनमें शब्द से जुडी किताबें होगी।

गानो के लिए
(-inurl:(html|html|php)intitle:"index of"+"last modified"+parent directory"+description+size+(wma|mp3) "shakira")
इस तरह आप शकीरा के गाने भी खोज सकते है।

वीडियोज के लिए
(-inurl:(html|html|php)intitle:"index of"+"last modified"+parent directory"+description+size+(mpeg|swv|avi|flv) "backstreet boys")

और बैकस्ट्‌ीट ब्वायज के विडियोज भी।
हालांकि एक और भी आसान तरीका है। ("parent directory"sahkira -xxx -html -htm -php -shtml -opendivx -md5 -md5sums) को गूगल सर्च करके भी आप सकारात्मक नतीजे पा सकते है।

उपर दी गई कोड मे कोई भी कोड सर्च करने पर आपको वह डायरेक्टरी सूची मिलेंगी जिनसे आप सर्च की हुई वस्तु सिर्फ एक क्लिक डाउनलोड कर सकते है। ध्यान दे कि सर्च के आगे (-) साइन इसलिए लगाया गया है ताकि inurl किसी वेबपेज मे ना आए उसी तरह (+) साइन जिनके आगे लगाया गया है वे शब्द वेबपेज मे आने चाहिए। क्योरी मे इस्तेमाल करा गया (|) लोजिकल OR की तरह काम करता है।

अब तो आप जान ही गए होंगे कि गूगल सिर्फ एक सर्च इंजन ही नही बल्कि हैकर्स का सबसे अच्छा मित्र भी है। तो अगर आप की भी कोई वेबसाइड है या आप वेब एडमिनीस्ट्रेटर है तो सावधान हो जाइए और ध्यान दे निम्नलिखित टिप्स पर अपनी वेबसाइड को काफी हद तक ऐसे हैकर्स से सुरक्षित बनाने के लिए

1- सबसे पहले आप अपने वेबसर्वर की डायरेक्टरी सूची को डिसेबल कर दे और यदि उसे एनेबल रखना जरूरी है तो उसमे से वेबसर्वर का वर्जन नंबर हटा दे। इसके लिए आप अपने एडमिनीस्ट्रेटर से बात करें

2- ऐनेबल्ड डायरेक्टरी सूची मे महत्वपूर्ण फाइल्स न रखें और यदि हो तो उन पर क्लिक करने वाले को 403 का फारबिडन ऐरर या सारी मैसेज दिखाएं। इसका भी अत्यधिक ध्यान रखें कि ऐरर मैसेज मे वेबसर्वर और वेबसाइड के डाटाबेस से संबधित कोई जानकारी न हो।

3- यदि हैकर्स गूगल द्वारा जानकारी जुटाते है तो इसमे गूगल की कोई गलती नही है क्योकि गूगल वो ही वेबपेज दिखते है जो उसे दिखाने के लिए कहा गया है। robots.txt वह फाइल होती है जो गूगल को यह बताती है कि गूगल को कौन कौन से वेबपेज दिखाने है और कौन से नही। robots.txt लेखन और नियमो के बारे मे अधिक जानकारी के लिए (www.robotstxt.org) पर जाएं। लिखते समय यह ध्यान रखे कि आप कोई महत्वपूर्ण फाइल जैसे कि एडमिन पासवर्ड या बेकअप फाइल गूगल द्वारा दिखाने को नही कह रहे हों।

उपर दिए गए टिप्स से आप हैकर्स को पूरी तरह रोक तो नही सकते मगर उनकी राह अत्यधिक कठिन बना सकते है।
read more

गूगल क्रोम में देखे लाइव टीवी


टीवी देखने का शोक आजकल सभी को है लेकिन अचानक से डीश भाग जाने पर मन उदास हो जाता है लेकिन अगर आपके पास इंटरनेट है तो आप कुछ हद तक अपनी उदासी दूर कर सकते है अगर आप गूगल क्रोम का इस्तेमाल करते हो तो आपके गूगल क्रोम के लिए एक छोटा सा टूलबार है जो आपको लाइव टीवी और रेडिओ देखने के साथ साथ और भी बहुत सी सुविधाए देता है जिसे आप यहाँ क्लीक करके डाउनलोड कर सकते है इसे डालने के बाद आपके आपके गूगल क्रोम में एक टूलबार बना हुवा आ जायेगा 



टूलबार आने के बाद Watch TV पर क्लीक करे by country पर क्लीक करे इसके बाद Asia पर क्लीक करे फिर India पर क्लीक करे जेसा ऊपर चित्र में दिखाया गया है क्लीक करते ही आपके सामने वो सब चेनल आ जायेंगे जिन्हें आप लाइव देख सकते हो 
read more

अब आपका कंप्यूटर खुलेगा सुपर फास्ट एक बेहतरीन तरीके से


ये पोस्ट ऐसी है जिसे करने के बाद आपका कंप्यूटर चुटकी बजाते ही खुल जायेगा यानि अगर आपका कंप्यूटर खुलने में ज्यादा टाइम लगता है तो निचे दिए हुवे तरीका करने से आपका कंप्यूटर बहुत फास्ट रूप में खुलेगा चाहे तो अजमा कर देखे

1. सबसे पहले नोटपेड खोले और उसमे ये टाइप करे "del c:\windows\prefetch\ntosboot-*.* /q" (without the quotes) अब इसको C ड्राइव में जाकर  "ntosboot.bat" के नाम से सेव कर दे

2. अब Start menu, पर क्लीक करके  "Run..." में टाइप करे  "gpedit.msc".

3. अब  "Windows Settings" पर डबल क्लीक करके उसके निचे  "Computer Configuration" पर क्लीक करे इस पर क्लीक करने के बाद सामने वाली विंडो पर  "Shutdown" लिखा हुआ आ जायेगा .

4. अब Shutdown पर डबल क्लीक करके "add", "Browse", पर क्लीक करके "ntosboot.bat" नाम की फाइल ओपन करे जो आपने सेव करी थी

5. इसके बाद  "OK", "Apply" & "OK" पर क्लीक करके बाहर आ जाये .

6. अब  "Run..." में जाकर  "devmgmt.msc". ये टाइप करे

7. "IDE ATA/ATAPI controllers". पर डबल क्लीक करे

8. "Primary IDE Channel"  पर राईट क्लीक करके "Properties". पर क्लीक करे

9. Select the "Advanced Settings" tab then on the device or 1 that doesn't have 'device
Type' greyed’ out select 'none' instead of 'autodetect' & click "OK".

10.अब ऐसे ही  "Secondary IDE channel", पर राईट क्लीक करके "Properties" को सलेक्ट करे और ऊपर 9 नम्बर पर दी गयी सेटिंग करे

11. इसके बाद अपने कंप्यूटर को रिस्टार्ट करे और फर्क देखे 
read more

यू ट्यूब के विडियो को किसी भी फोर्मेट में चुटकी बजाते ही डाउनलोड करे


वेसे तो बहुत से तरीके है जिसे करके आप यू टुब के विडियो डाउनलोड कर सकते हो मैंने भी अपने ब्लॉग पर कुछ तरीके दिए हुवे है जिसे करने के बाद आप यू ट्यूब के विडियो को आसानी से डाउनलोड कर सकते हो एक ऐसा ही एक और तरीका मैं आपको बताने वाला हु जिसे करने के बाद आप यू टुब के विडियो को किसी भी फोर्मेट में डाउनलोड कर सकते हो आज मैं आपको ऐसी बेहतरीन वेबसाईट पर लेकर चलता हु जहा से आप यू टुब के विडियो को किसी भी फोर्मेट में डाउनलोड कर सकते हो बस आपको विडियो डाउनलोड करने के लिए उसके यूआरएल की जरूरत पड़ेगी इस साईट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करे
read more

एक सोफ्टवेयर जो आपकी आँखों को देगा बेहतरीन सुरक्षा

                            



आज मैं आपकी सेहत से जुड़ा हुवा सोफ्टवेयर लाया हु जो आपकी आँखों का ख्याल रखेगा अगर आपका ज्यादा टाइम कंप्यूटर पर बीतता है तो शायद आपकी आँखों में दर्द हो जाता होगा वेसे तो आजकल बहुत से ऐसे एलसीडी आ रहे है जो हमारी आँखों को ज्यादा नुकसान नहीं पहुचाते लेकिन सबके पास एलसीडी तो है नहीं बहुत से लोग पुराने मोनिटर पर ही काम करते है और जो लेपटोप पर भी ज्यादा काम करते है उनकी आँखों पर भी ज्यादा फर्क पड़ता है लेकिन आज मैं आपके लिए ऐसा सोफ्टवेयर लेकर आया हु जो आपकी अखो को पूरी सुरक्षा देगा ये सोफ्टवेयर अपने आप ही तेजी से आ रही मोनिटर की रौशनी को हल्का कर देता है जिससे आपकी आँखों को पूरी सुरक्षा मिले इस सोफ्टवेयर को डालने के बाद ये निचे साईट बार में आ जायेगा जिसे आप अपनी जरूरत के अनुसार सेट कर सकते हो जैसे मैं इसका इस्तेमाल सुबह के समय करता हु क्युकी सुबह मैं अँधेरे में कंप्यूटर खोल कर बेठ जाता हु अँधेरा होने के कारण मोनिटर की लाइट ज्यादा आँखों में लगती है उस टाइम मैं इस सोफ्टवेयर को ऑन कर लेता हु और अपनी जरूरत के अनुसार सेट कर देता हु इस सोफ्टवेयर को ऑन करने के बाद मेरी आँखों पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ता और मैं आराम से काम करता हु इस सोफ्टवेयर के डाउनलोड के लिंक मैं नीचे दे रहा हु जिसे आप अपने ऑपरेटिंग सिस्टम के अनुसार डाउनलोड कर सकते हो 

read more

रविवार, 30 अक्तूबर 2011

गूगल क्रोम के कुछ रहस्य


अगर आप   गूगल क्रोम का इन्तेमल करते हो जो आज मैं गूगल क्रोम के कुछ रहस्य लिखने जा रहा हूँ. अरे बहुत ज्यादा मत सोचो. यह केवल क्रोम शॉर्टकट कुंजियों की सूची है. इन शॉर्टकट कुंजियों की मदद से आप और तेजी से एक आसान तरीका में अपने क्रोम ब्राउज़र का उपयोग कर सकते हो .


CTRL + SHIFT + N : automatically opens up a Chrome ‘incognito’ window which allows you to surf on a PC without leaving behind any digital footprints.


SHIFT + Escape: allows for fast access to Chrome’s task Manager utility that allows you to nix browser processes that have gone awry.


CTRL + SHIFT + T: will open recently closed browser tabs.


Ctrl+N – Open a new window
Ctrl+Shift+N – Open a new window in incognito mode
Press Ctrl,and click a link – Open link in a new tab
Press Shift, and click a link – Open link in a new window
Alt+F4 - Close current window
Ctrl+T - Open a new tab
Ctrl+Shift+T – Reopen the last tab you’ve closed. Google Chrome remembers the last 10 tabs you’ve closed.
Drag link to tab – Open link in specified tab
Drag link to space between tabs – Open link in a new tab in the specified position on the tab strip
Ctrl+1 through Ctrl+8 – Switch to the tab at the specified position number. The number you press represents a position on the tab strip.
Ctrl+9 – Switch to the last tab
Ctrl+Tab or Ctrl+PgDown – Switch to the next tab
Ctrl+Shift+Tab or Ctrl+PgUp – Switch to the previous tab
Ctrl+W or Ctrl+F4 – Close current tab or pop-up
Alt+Home – Open your homepage
Ctrl+O, then select file – Open a file from your computer in Google Chrome


Ctrl+P – Print your current page
F5 – Reload current page
Esc – Stop page loading
Ctrl+F5 or Shift+F5 – Reload current page, ignoring cached content
Press Alt, and click a link – Download link
Ctrl+F – Open find-in-page box
Ctrl+G or F3 – Find next match for your input in the find-in-page box
Ctrl+Shift+G or Shift+F3 – Find previous match for your input in the find-in-page box
Ctrl+U – View source
Drag link to bookmarks bar – Bookmark the link
Ctrl+D – Bookmark your current webpage
Ctrl++ – Make text larger
Ctrl+- – Make text smaller
Ctrl+0 – Return to normal text size


Ctrl+B – Toggle bookmarks bar on and off
Ctrl+H – View the History page
Ctrl+J – View the Downloads page
Shift+Escape – View the Task manager
read more

गूगल को पकड़कर इधर उधर फेके



वेसे तो हमारे गूगल देवता पर कुछ भी सर्च करने पर हमको सब मिल जाता है लेकिन कभी कभी हमारी जरूरत की जानकारी नहीं मिल पाती तो आपको गुस्सा आता ही होगा की कुछ ऐसा होता की गूगल का एक एक हिस्सा पकड़कर इधर उधर फेक देते आज मैं आपको उस जगह लेकर चलता हु जहा आप गूगल का एक एक हिस्सा पकड़कर इधर उधर पकड़कर फेक सकते हो आप यहाँ क्लीक करे और गूगल की वाट लगाये गूगल को पकड़कर घुमा घुमा कर फेको कोई आपको रोकेगा नहीं और एक जगह और है जहा आप गूगल को डांस करते हुवे देख सकते हो यहाँ क्लीक करके आप उनका डांसिंग का रूप भी देख सकते हो वेसे आपको पहले वाले लिंक में ही मजा आया होगा क्युकी उसमे गूगल को पकड पकड कर फेकने में बहुत मजा आया 
read more

गूगल की नई सुविधा अब बोलकर सर्च करे



अगर आप गूगल क्रोम का इस्तेमाल करते हो तो आपके लिए एक खुशखबरी है गूगल ने अपनी एक नई सुविधा शुरू करी है जिसे डालने के बाद आप किसी भी साईट को बस बोलकर ही सर्च कर सकते हो यानि अब आपको लिखने की कोई जरुरत नहीं है बस बोलिए वो ही जानकारी आपके सामने आ जाएगी मेने तो इस सुविधा को चालू कर लिया है अगर आप भी ये सुविधा चालू करना चाहते हैतो यहाँ क्लीक करके वो सुविधा चालू कर लीजिये  इसे डालने के बाद आपके गूगल क्रोम में ऊपर की और एक माइक बना हुवा आ जायेगा जिस पर आप क्लीक करके कुछ भी बोलेंगे तो वो अपने आप ही अलग विंडो में खुल जायेगा लेकिन बोलते टाइम  आपके कंप्यूटर में माइक लगा होना चाहिए.

read more

किसी भी सोफ्टवेयर की सीरियल नम्बर सर्च करने का बेहतरीन तरीका


वेसे तो आप लोगो को बहुत सी साईट पता होगी जहा किसी भी सोफ्टवेयर का सीरियल नम्बर मिल जाता है लेकिन शायद आपको सीरियल नम्बर सर्च करने का वो तरीका नहीं पता होगा जो आज मैं आपको बताने वाला हु आप गूगल पर जाकर बहुत ही आसानी से किसी भी सोफ्टवेयर का सीरियल नम्बर सर्च कर सकते है

अगर आप किसी सोफ्टवेयर का सीरियल नम्बर पता करना चाहते हो तो आप गूगल पर जाकर "Software name" 94FBR लिखना होगा ऐसा लिखते ही आपके सामने उस सोफ्टवेयर का सीरियल नम्बर आ जायेगा जैसे आपको फोटोशोप 7 का सीरियल नम्बर चाहिए तो आपको गूगल पर जाकर"Photoshop 7" 94FBR ये लिखना होगा ऐसा लिखते ही आपके सामने फोटोशोप 7 का सीरियल नम्बर आ जायेगा तो देर किस बात की आप भी अपने सोफ्टवेयर का सीरियल नम्बर ऐसे ही सर्च करे 
read more

एक ही टाइम में दो आईडी खोलने का तरीका


अगर आपकी एक ही साईट पर दो या दो से ज्यादा आईडी है जैसे जीमेल पर आपकी दो आईडी है और आप एक ही टाइम में आप अपनी दोनों आईडी  खोलना चाहते है तो मैं आपको वो तरीका बताता हु जिससे आप बिना किसी सोफ्टवेयर के अपनी सारी आईडी एक ही टाइम में खोल सकते है अगर आप गूगल क्रोम का इस्तेमाल करते है तो ये काम आप चुटकी बजाते ही कर सकते है आपको बस अपने किबोर्ड से Shift+Ctrl+N दबाना होगा की दबाते ही एक अलग से विंडो खुल जाएगी जिस पर आप अपनी दूसरी आईडी खोल सकते है चाहो तो एक बार ट्राई करके देख लो 
read more

शनिवार, 29 अक्तूबर 2011

एक उपयोगी जानकारी हैकर्स कैसे इस्तेमाल करते है गूगल को



इस बात मे कोई शक नही कि गूगल ने इंटरनेट जगत मे एक क्राति ला दी है। इसके सर्वज्ञानी सर्च से आप कोई भी मनपसंद विषय या वस्तु खोज सकते है या उसके बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते है। पर क्या आप इस बात से वाकिफ है कि बहुत से हैकर्स और करैकर्स भी गूगल का इस्तेमाल करते है। जी हां हैकर्स कई तरह से गूगल का इस्तेमाल कर अपने शिकार के बारे मे जानकारी जुटाते है। हालाकि वे आपकी ओर हमारी तरह साधारण सर्च न करके कुछ एडवांस सर्च और कमांड का उपयोग करते है। आज मै आपको बता रहा हू कुछ ऐसे ही एडवांस सर्च और तरीको के बारे मे जिन्हे हैकर्स और करैक्र्स इस्तेमाल करते है।

गूगल बना प्रोक्सी सर्वर 
इस अचूक तरीके का इस्तेमाल तब किया जाता है जब मेन सर्वर से कुछ वेबसाइट्स को बैन कर दिया गया है। हैकर्स गूगल को प्रॉक्सी सर्वर की तरह इस्तेमाल कर अपनी मनपसन्द वेबसाइड पर जा सकते है और वेबसर्वर एडमिनिस्ट्ेटर को इस बात की भनक भी नही होती वे इसके लिए गूगल ट्रांसलेटका उपयोग करते है। गूगल की इस सुविधा का इस्तेमाल आमतौर पर किसी भाषा के वाक्य को किसी दूसरी भाषा मे तब्दील करने के लिए किया जाता है। पर यदि हम वाक्य की जगह वेबसाइड का यूआरएल डालें तो वह किसी ओर भाषा मे हमारे सामने आएगी। यह इसलिए होता है क्योकि मेन सर्वर पर कोई भी वेबसाइड एसके आईपी एड्ेस और यूआरएल द्वारा बेन की जाती है और गूगल ट्रांसलेट इस्तेमाल करने पर (www.youtube.com) के वेबपेज पहले गूगल ट्रांसलेट पर ट्रांसलेट होते है और उसके बाद मेन सर्वर तक पहुंचते है। गूगल को इस तरह प्रॉक्सी सर्वर की तरह इस्तेमाल करने पर गुगल ट्रांसलेट का आईपी एड्ेस मेन सर्वर पर जाता है जिससे सर्वर को यह भ्रम होता है कि गूगल ट्रांसलेट की मांग कर रहे है न कि (www.youtube.com) की और उन्हे अपनी मनपंसद वेबसाइड ट्रांसलेट भाषा मिल जाती है।

हैकर्स गूगल द्वारा सेव किए गए कैश्ड पेज का इस्तेमाल भी करते है। इन्हे इस्तेमाल करने के लिए गूगल सर्च के पन्नो मे दिए गए किसी भी लिंक के नीचे दिए गए cached के लिंक को क्लिक करना होता है। इसके बाद जो पेज खुलते है वह असल मे गुगल द्वारा पहले से स्टोर किया हुआ पेज होता है। इससे हैकर्स बिना उस वेबसाइड के सर्वर पर जाए उस वेबसाइड को देख सकते है। यहां उन्हे सबसे बडा फायदा इस बात का मिलता है कि वेबसाइड के सर्वर पर उनके आईपी एड्ेस का सुराग नही रहता और उन्हे पकड़ना कठिन हो जाता है।

गूगल स्पेशल सर्च आपरेटर 
आपके सर्चिग के काम को आसान बनाने के लिए गूगल स्पेशल सर्च आपरेटर देता है इनसे आप अपनी सर्च को कई गुना आसान बना सकते है। निचे दिए गए कुछ ऐसे ही स्पेशल सर्च आपरेटर है जिनका हैकर्स बडे चाव से इस्तेमाल करते है।

site आपरेटर
site आपरेटर का इस्तेमाल हैकर्स किसी भी डोमेन के वेबसर्वर के नाम व उसके बारे मे अधिक जानकारी पाने के लिए करते है। उदाहरण के लिए गूगल सर्च मे(site:washingtonpost.com)(site:www.washingtonpost.com) का इस्तेमाल करने पर गूगल (www.washingtonpost.com) के अलावा (washingtonpost.com) डोमेन के बाकी सभी वेबसर्वर के वेबपेज रिटर्न करेगा। इससे हैकर्स को पता चल जाता है कि (www.washingtonpost.com) के अलावा (washingtonpost.com) डोमेन के और कितने वेबसर्वर है।

link आपरेटर
link आपरेटर का इस्तेमाल करने पर गूगल वह वेबपेज रिर्टन करता है जो एक स्पेसीफाइड यूआरएल का link करते है। उदाहरण के लिए गूगल मे(link:www.youtube.com) करने पर वह वेबपेज रिटर्न आते है जिनमे कहीं ना कहीं (www.youtube.com) का लिंक हो।

ext आपरेटर
ext आपरेटर का इस्तेमाल करने पर गूगल वह वेबपेज रिर्टन करता है जिनका एक खास एक्सटेंशन हो। यह खास एक्सटेंशन आप गूगल सर्च मे ही देते है। उदाहरण(hacker ext:pdf) सर्च करने पर वह pdf फाइल्स रिटर्न आती है जिनके नाम मे hacker आता है।

inurl आपरेटर
inurl आपरेटर गूगल के सबसे शक्तिशाली आपरेटर्स में से एक है। इसका इस्तेमाल करने पर केवल वह वेबपेज आते है, जिनके यूआरएल मे एक खास शब्द या वाक्य आता है। उदारणतया inurl:hacking सर्च करने पर वह वेबपेज रिटर्न आते है। जिनके यूआरएल मे hacking शब्द आता है।

cache आपरेटर
cache आपरेटर इस्तेमाल करके आप किसी वेबसाइड के गूगल द्वारा कैश्ड पेजेज को देख सकते है। आपको सिर्फ (cache:www.yahoo.com) सर्च करना होगा और गूगल आपको yahoo के कैश्ड पेजेज दिखा देगा।

intext आपरेटर
intext आपरेटर का इस्तेमाल कर हैकर्स गूगल से वह वेबपेजेज रिटर्न करवाते है। जिनके बॉडी कन्टेन्ट मे कोई खास शब्द आता है। आपको सिर्फintext:hacking सर्च करना होगा और गूगल आपको वह वेबपेज रिटर्न करेगा जिनके अन्दर hacking शब्द लिखा होगा। हैकर्स इसका भी काफी उपयोग करते है। याद रहे कि intext आपरेटर सिर्फ बॉडी टेक्स्ट को ही पकड़ पाता है न कि लिंक, टाइटल और यूआरएल के शब्दो को।

intitle आपरेटर
intitle hacking सर्च करने से वही वेबपेज रिटर्न आते है, जिनके टाइटल बार मे hacking शब्द आता है।

related आपरेटर
related आपरेटर का हैकर्स तब प्रयोग करते है जब उन्हे किसी वेबसाइड से मिलती जुलती कई और वेबसाइड के बारे मे पता करना होता है। अब आप भी इस सर्च का प्रयोग कर सकते है। आपको करना सिर्फ यह होगा कि गूगल सर्च मे(related:www.yahoo.com)लिखें और गूगल आपको याहू जैसे कई और सर्च इंजन के नाम बता देगा। यह आप किसी भी वेबसाइड के साथ कर सकते है

अब आप जान चुके है कि हैकर्स अपने सर्च को आसान कैसे बनाते है। हालाकि हैकर्स इन आपरेटर से और भी बहुत कुछ कर सकते है जिसकी जानकारी मै आपको बहुत जल्दी दुंगा जिसमे मै आपको पासवर्ड की जानकारी, लाइव कैमरा, वेबसर्वर का वर्जन नंबर ज्ञात करना बताउंगा तो इंतजार किजिए मेरी अगली पोस्ट का आपको ये जानकारी केसी लगी कमेंट्स देकर बताये जरुर
read more

आपके बहुत काम आएगा गूगल डॉक्स



गूगल डॉक्स एक पावरफुल ऑनलाइन टूल है, जिसकी मदद से आप ऑनलाइन भी शेयर कर सकते है। आप जब भी इस डॉक्यूमेंट में कोई चेंज करेंगे तो वह आपके दोस्तों को भी अपडेटेड ही मिलेंगा। आप अपनी अभी की एक्सल, वर्ड, ओपन ऑफिस फाइल, एचटीएमएल या टेस्क्ट फाइल को अपलोड या आप जो भी फाइल ऑनलाइन बनाते है उनको डाउनलोड भी कर सकते है। आप अपने डॉक्यूमेंट्‌स को भी अपने दोस्तों और सहयोगियों के साथ मिलकर ऑनलाइन एडिट कर सकते हैं यानी अगर आप अपने कंप्यूटर पर और आपका सहयोगी अपने कंप्यूटर पर एक ही डॉक्यूमेंट में काम कर रहे हैं तो आप एक दूसरे की एडिटिंग को भी देख सकते हैं। उसके अलावा आप यह भी देख सकते है कि किसने कब उस डॉक्यूमेंट को चेंज किया। अगर आप चाहें तो किसी भी पुराने वर्जन पर वापस भी जा सकते हैं। अपने डॉक्यूमेंट को किसी वेब पेज की तरह ऑनलाइन पब्लिश करने के साथ साथ किसी भी ब्लाग पर पोस्ट भी कर सकते हैं। इन डॉक्यूमेंट्‌स को सीधे ही किसी को भी ई-मेल किया जा सकता है। एक्सल को गूगल डॉक्स में स्प्रेडशीट कहते हैं।
गूगल डॉक्यूमेंट को यूज करने के लिए आप (docs.google.com) पर जाकर उसे अपने जी-मेल यूजरनेम और पासवर्ड से लॉग-इन कर सकते हैं। अगर आपका जीमेल यूजरनेम नही है तो (docs.google.com) पर गूगल अकाउंट बना सकते हैं। किसी भी नए डॉक्यूमेंट या स्प्रेडशीट को क्रिएट करने के लिए आप(docs.google.com) पर जाकर Create New पर क्लिक करें और डॉक्यूमेंट स्प्रेडशीट या प्रजेंटेशन जो भी आपको बनाना हो, उस ऑप्शन को सिलेक्ट करें। जब आप डॉक्यूमेंट पर काम करना शुरू करते हैं तो राइट कॉर्नर पर सेव बटन पर क्लिक करें, जिसके बाद रीनेम डॉक्यूमेंट नाम से एक बाक्स पर नजर आएगा। उसमें डॉक्यूमेंट का नाम एंटर करें। यह डॉक्यूमेंट बाद मे उसी नाम से डॉक्यूमेंट लिस्ट में मिल जाएगा। अगर आप अपने जी में है तो लेफट साइट में टॉप पर बने डॉक्यूमेंट लिंक को क्लिक करके भी अपने ऑनलाइन डॉक्यूमेंट को एक्सेस कर सकते हैं। गूगल डॉक्स में अगर आप जल्दी से कोई प्रोफेशनल डॉक्यूमेंट बनाना चाहते हैं तो आप सर्च टेम्पलेट से बने बनाए टेम्पलेट्‌स का यूज करके डॉक्यूमेंट को बना सकते हैं।
read more

लिखिए अपनी भाषा में